दुनिया की सबसे रहस्यमई जगह है एरिया 51, यहां सदियों से आते रहे हैं एलियंस


एरिया 51 को कोई कहानी बताता है तो कोई हकीकत। लेकिन कुछ ऐसे भी तथ्य सामने आए हैं जो एरिया 51 को किसी हॉलीवुड कहानी से कुछ जयादा होने की संभावना व्यक्त करते हैं। तो चलिए आज दुनिया के उस कोने के बारे में जानते हैं जिसे विश्व का सबसे रहस्यमई स्थान माना जाता है और जिसे अमेरिका ने सभी से छुपा रखा है।

क्या है एरिया 51?

स्रोत

अमेरिका के लास वेगास से करीब 83 मील उत्तर पश्चिम की तरफ है नेवादा नामक जगह है। और इसी नेवादा के ग्रूम झील के पश्चिमी तट पर स्थित है एक विशाल सैन्य अड्डा जो एक गोपनीय सैन्य हवाई क्षेत्र है। इसी स्थान को धरती का सबसे रहस्यमई इलाका कहा जाता है जिसे लोग एरिया 51 के नाम से पुकारते हैं। इसकी गोपनीयता इसी बात से साफ़ हो जाती है कि ये अमेरिका के किसी नक्शे पर भी मौजूद नहीं है। ग्रूम झील आपको गूगल मैप पर भी देखने को नहीं मिलेगा। ग्रूम झील के पास कुल 7 रनवे बने हुए हैं जहां से खुफिया विमान उड़ान भरते रहते हैं। सीआईए ने एरिया 51 नामक जगह होने की बात तो काबुली है लेकिन इसे बनाने के पीछे का कारण कभी नहीं बताया।

यहां मिला था एलियन का शव

स्रोत

साल 1947 में किए गए एक दावे के अनुसार यहां एक एलियन का यूएफओ दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसमें से एक एलियन का शव भी बरामद किया गया था। ये एलियन कुछ-कुछ मानव जैसा ही था और इसका कद चार फुट था। इस पूरी जगह को बाड़ से घेरकर रखा गया जिसकी सुरक्षा आधुनिक हथियारों से लैस सुरक्षाकर्मी करते हैं। यहां आमआदमी या जानवरों केआने पर पूर्णतः प्रतिबंध है। और अगर कोई यहां आसपास भी दिख जाए तो उसे फौरन गिरफ्तार कर लिया जाता है। एफबीआई उससे पूछताछ करती है और 600 डॉलर तक का जुर्माना भरने के बाद ही उसे छोड़ा जाता है।


अपने विचार साझा करें


शेयर करें