Chandrayaan-2 : अभी इसरो से विक्रम का संपर्क टूटा है, देशवासियों की उम्मीद नहीं!


इस वक़्त देश चंद्रयान 2 मिशन की ही चर्चा कर रहा है. हर कोई इस उम्मीद में था कि कल हमारें वैज्ञानिकों की ये सफतला पूरा विश्व देखेगा. पर किसी करण ऐसा न हो सका. चंद्रमा की सतह से महज दो किलोमीटर पहले लैंडर विक्रम से इसरो का संपर्क टूट गया.

और ये मिशन अधूरा रह गया. अधूरा इसलिए बोल रहे है, क्योंकि हमे ये यकीन है कि हमारें वैज्ञानिक इससे एक न एक दिन पूरा कर ही देंगे. खैर, पूरा देश हमारें वैज्ञानिकों के साहस की सराहना कर रहा है. प्रधानमंत्री मोदी ने भी वैज्ञानिकों से डटे रहने को कहा. साथ ही उन्होंने वैज्ञानिकों के हौसले की दाद देते हुए भविष्य में कामयाबी की कामना की.


कल रात से ही पीएम मोदी इस मिशन को बड़ी बारीखी से देख रहे थे. और फिर आज सुबह भी वे वैज्ञानिकों से मिलने पंहुच गए. वहां पीएम मोदी ने कहा कि वे यहां कोई उपदेश देने नहीं आए थे. बस वो तो वैज्ञानिकों से प्रेरणा लेने आए थे. उनके इस संबोधन के बाद जब पीएम इसरो मुख्यालय से बहार निकल रहे थे. फिर वो लम्हा आया जिसको देखने के बाद हर कोई भावुक हो गया.

इसरो चीफ के सीवान जो की इस मिशन को लीड कर रहे थे वो अपने आसूओं को रोक नहीं पाए और वे रो पड़े. भावुक हुए सीवान को पीएम ने गले लगा लिया और डटे रहने को कहा. सीवान 11 साल से इस मिशन पर काम कर रहे थे.


प्रधानमंत्री मोदी के साथ साथ देश की विपक्षी पार्टियों के नेताओं ने भी ट्वीट कर के वैज्ञानिकों की हौसला अफजाई की. बॉलीवुड भी पीछे नहीं रहा कई सेलिब्रिटीज ने वैज्ञानिकों की सराहना करी.

हम तो बस इतना ही कहेंगे की हमें सफलता जरुर मिलेगी. और पूर्व प्रधानमंत्री पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने भी अपनी एक कविता में यही कहा था. जो आज के इस लम्हे को बिल्कुल ठीक बयां कर रही है.” क्‍या हार में क्‍या जीत में, किंचित नहीं भयभीत मैं, संधर्ष पथ पर जो मिले, यह भी सही वह भी सही”.

#1

#2

#3

#4

#5


अपने विचार साझा करें


शेयर करें