आखिर ऐसा क्या किया इस शख्स ने कि तीन बार मरकर भी हो गया जिंदा?


करीब दो साल पहले की बात है। मैं खेत में काम करने के बाद काफी थक गया। इसलिए थोड़ी देर आराम करने बैठ गया। अभी कुछ ही देर हुई थी कि तभी अचानक मेरे सिर में तेज दर्द होने लगा। दर्द इतना तेज था कि मैं बेहोश हो गया। जब मेरी आंखें खुली तो मैं कहीं और था। मेरे चारों तरफ मेरे परिजन ज़ोर-ज़ोर से रो रहे थे। और मैं चाह कर भी उन्हें चुप नहीं करा पा रहा था। इस तरह पंद्रह मिनट बीत गए।

तभी अचानक मुझे कोई काली सी परछाई नज़र आई। वो परछाई मेरे पास आई और उसने मेरा हाथ कसकर पकड़ लिया। फिर वो मुझे अपने साथ ऊपर की ओर लेकर जाने लगी। काफी ऊपर जाने के बाद मैं मानो किसी और ही दुनिया में पहुंच गया। वहां मेरे सामने एक मोटा-तगड़ा आदमी खड़ा था। शायद वो यमराज होंगे। उनके हाथों में एक किताब थी। अचानक वो तगड़ा आदमी उदास हो गया। और उसने अजीब सी भाषा में अपने सिपाहियों से कुछ कहा। ऐसा लग रहा था मानो वो काफी नाराज है और सिपाहियों को किसी बात पर डांट रहा है।

जैसे ही उनकी डांट खत्म हुई, मुझे वो काली सी परछाई दुबारा नज़र आई और उसने मुझे मेरे सिर से पकड़ा और जोर से दबाया। मुझे ऐसा लगा मानो मुझे किसी ने नीचे धक्का मारा हो। और नीचे आते ही मेरी आंखें खुली और मैंने खुद को अपने घर में पाया।

अब आप सब सोच रहे होंगे कि क्या ये कोई कहानी है, लेकिन ये कोई कहानी नहीं बल्कि बिलकुल सत्य घटना है। ये घटना घटी है भुम्मा गांव के निवासी करतारे सिंह के साथ। भुम्मा गांव मुजफ्फरनगर जिले के जानसठ तहसील के अंतर्गत आता है। और जिस वक्त करतारे सिंह बेहोश हुए थे तब लोगों ने उन्हें डॉक्टर को दिखाया जिसके बाद डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। और जिस समय करतारे सिंह को होश आया तब लोग उनकी अर्थी सजा रहे थे। उनके होश में आते ही सभी हैरान रह गए और शोकाकुल वातावरण फिर से खुशियों से भर गया।

हैरत की बात तो ये है कि करतारे सिंह के साथ ये एक या दो बार नहीं बल्कि पूरे तीन बार हो चुका है। हर बार डॉक्टर उनकी मौत की पुष्टि करता है और वे फिर से सांसे लेने लगते हैं। इस वजह से अब लोग उन्हें अमरदीप के नाम से बुलाने लगे हैं। यूं तो इस पूरी घटना पर विश्वास करना थोड़ा मुश्किल है लेकिन जो भी हुआ उसका साक्षी पूरा गांव है। अब चाहे आप इसे भाग्य कहे या चमत्कार, पर एक बार फिर ये साबित हो गया कि, जाको राखे साइयां मार सके ना कोय।


अपने विचार साझा करें


शेयर करें