न्यूजीलैंड में हुआ टेररिस्ट अटैक, 30 से ज्यादा लोगों को मारे जाने की आशंका


न्यूजीलैंड के क्राइस्ट चर्च में दो मस्जिद में फायरिंग की खबर आ रही है. यहां के अल नूर मस्जिद में अज्ञात हमलावरों ने ताबडतोड़ फायरिंग की है. जानकारी के अनुसार इस गोलीबारी में करीब 30 से ज्यादा लोगों के मारे जाने की आशंका जताई जा रही है वहीं 60 से अधिक लोग घायल हुए हैं. मीडियो रिपोर्ट के माने तो हमलावर अपने सर पर हेलमेट पहले हुए थे और हादसे की लाइव स्ट्रीमिंग कर रहे थे.

पुलिस कमिश्नर माइक बुश के मुताबिक शहर के सभी स्कूलों को बंद करवा दिया गया है. मध्य क्राइस्टचर्च में लोगों से आग्रह किया गया है कि वे घर के अंदर रहें और उन्हें कुछ भी संदिग्ध लगता है तो वे इसकी सूचना तुरंत पुलिस अधिकारियों को दें.

चश्मदीदों की मानें तो हमलावर ने काले कपड़े पहने हुए हैं और वह सिर पर हेलमेट लगाए हुए था. इस घटना के एक गवाह ने बताया कि बंदूक लेकर एक व्यक्ति अल-नूर मस्जिद में स्थानीय समयानुसार लगभग 1:45 बजे दाखिल हुआ.

आप को बता दें जिस हमलावर ने इस वारदात को अंजाम दिया है उसने 74 पेजों का एक दस्तावेज छोड़ है जिसके मुताबिक उसका मकसद बहार से आए हुए मुस्लमान जो न्यूजीलैंड आ के बसे है. उनको मरना था.

वही इस हमले के बाद न्यूज़ीलैंड की प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न ने कहा- क्राइस्टचर्च में जो हुआ है ऐसी चीजों के लिए न्यूज़ीलैंड में कोई जगह नहीं है. प्रभावित लोगों में से कई हमारे प्रवासी समुदायों के सदस्य हैं. न्यूज़ीलैंड उनका घर है. वे हमारे हैं.

बताते चले की जिस वक़्त हमला हुआ बांग्‍लादेश की पूरी टीम उसी मस्जिद में मोजूद थी और नमाज अदाकर रही थी, तभी अचानक मस्जिद के अंदर शुरू हो गई. हालांकि इस घटना में किसी खिलाड़ी को चोट नहीं आई है और सभी सुरक्षित हैं. घटना के बाद से टीम जल्द से जल्द न्यूजीलैंड छोड़ देना चाहती है.

बांग्लादेश क्रिकेट टीम के खिलाड़ी तमीम इकबाल ने ट्वीट कर कहा, ”गोलीबारी में पूरी टीम बाल-बाल बच गई. बेहद डरावना अनुभव था”.


अपने विचार साझा करें


शेयर करें