चालान कटने का ऐसा खौफ नहीं देख होगा आपने, कुछ इस तरह से लेकर घूम रहा गाड़ी के पेपर्स!


आज कल सोशल मीडिया से लेकर आम जनता के बीच दो ही चीजों की खूब चर्चा हो रही है, एक चंद्रयान और दूसरा चालान, और हम यहाँ आप से दुसरे विषय पर बात करने आए है. पूरे देश में 1 सितंबर 2019 से संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट लागू कर दिया गया है. और जब से ये लागू हुआ है तब से लोग इस एक्ट को लेकर सोशल मीडिया में काफी मज़ाक उड़ा रहे है, वहीं देश के कई हिस्सों में इस को लेकर विरोध भी किया जा रहा है.

ऐसे में अगर आपने ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन किया तो भारी जुर्माना देना पड़ सकता है. चालान से बचने के लिए लोग अपने गाड़ी के पेपर्स बनवा रहे है और अब काफी हद तक लोग नियमों का पालन भी करते दिख रहे है.

चालान कटने के खौफ के चलतें जहाँ उत्तर प्रदेश के रहने वाले सुरेश चंद गुप्ता ने जहां कार में हेलमेट लगाकर चल रहे हैं. वहीं गुजरात में एक शख्स ने चालान कटने से डर से अपने सभी डॉक्यूमेंट्स हेलमेट पर चिपका लिए है.

जी हाँ अपने ने ठीक सुना, इस शख्स ने चालान कटने के डर के कारण ही ऐसा कदम उठाया है, आपको बता दें कि अभी तक सीएम विजय रूपाणी की सरकार ने अभी तक अपने राज्य में नए मोटर व्हीकल एक्ट लागू नहीं किया है.


मीडिया रिपोर्ट्स कि मानें तो इस शख्स का नाम राम शाह है और ये वडोदरा का रहने वाला है. वे इंश्योरेंस एजेंट है और उनका ज्यादातर काम बाइक से ही होता है. ऐसे में भारी भरकम चलाना के जुर्माने से बचने के लिए इन्होंने अपने गाड़ी से सरे पेपर्स जैसे ड्राइविंग लाइसेंस, इंश्योरेंस स्लिप, पीयूसी सर्टिफिकेट और अपनी बाइक के रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (आरसी) को हेलमेट पर चिपका लिया है.

इस पर शाह से जब पूछा गया तो उन्होंने बोला कि अब उन्हें भारी जुर्माने के बारे में ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं पड़ती, क्योंकि जब भी कोई पुलिस वाला उन्हें रोकता है तो उनके पास सभी डॉक्यूमेंट्स मौजूद रहते हैं. शाह ने कहा कि इस तरह मुझे कभी परेशान नहीं होना पड़ता है और न ही मुझे कोई जुर्माना चुकाना पड़ता है.

बता दें कि जब से नए नियम आए है जुर्माना कि रकम 10 गुना तक बढ़ा दिया गया है.वहीं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से जब नए नियमों को लेकर पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जुर्माने का लक्ष्य सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाना है। यदि कोई व्यक्ति नियमों का पालन करता है तो उसे जुर्माने का भय नहीं होना चाहिए.

#1

#2

#3

#4

#5


अपने विचार साझा करें


शेयर करें