इंग्लैंड से मिली हार के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड अपने प्लायेरो से कुछ इस तरह से ले रहा है बदला


क्रिकेट का महा संग्राम शुरू होने में अब बहुत कम समय गया है. और हर टीम अपना बेस्ट देकर इस टूर्नामेंट को जीत जीतना चाहेगी. पाकिस्तानी क्रिकेट बोर्ड का भी कुछ ऐसा ही मानना है. पर जिस तरह पाकिस्तान की टीम ने हाल ही में इंग्लैंड के हाथों वनडे सीरीज में हार झेली, पीसीबी को लग गया है कि ऐसे नहीं हो पाएगा. पांच वनडे मैचों की सीरीज में पाकिस्तान 0-4 से हारी.

आप को बता दें कि बोर्ड की नई पॉलिसी के आनुसार अब ये तय किया गया है कि पाकिस्तानी प्लेयर्स अपनी फॅमिली को इस वर्ल्ड कप में अपने साथ नहीं ले जा सकेंगे. अगर फॅमिली वाली फिर भी जाना चाहती है, तो परिवार वाले का रुकने का इन्तेजाम प्लेयर को खुद करना पड़ेगा. यहाँ तक की प्लेयर के साथ होटल रूम में रुकने की इजाजत किसी को नहीं होगी.

ऐसा माना जा रहा है कि इंग्लैंड से मिली इतनी बुरी तरह हार के बाद ये फैसला लिया गया है. इस टूर में प्लेयरों की पत्नियां साथ ट्रैवल कर रहीं थी.

पाकिस्तानी बोर्ड के आनुसार वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में प्लेयरों का फोकस खेल पर रहने की जरूरत है और परिवार साथ ट्रैवल करता है तो प्लेयरों को उनके लिए अरेंजमेंट्स करने में ज्यादा ध्यान देना पड़ता है. बता दें कि पाकिस्तना अपना पहला मैच 31 मई को वेस्टइंडीज के खिलाफ नॉटिंघम में खेलेगी.

वैसे बीसीसीआई भी कुछ इस तरह की ही पॉलिसी लेकर आई है. जिसके आनुसार टूर्नामेंट के शुरूआती 20 दिन प्लेयर्स अपनी पत्नी या गर्लफ्रेंड को साथ नहीं ला सकेंगे.


अपने विचार साझा करें


शेयर करें